Classful Addressing-Different IP Address Classes

0
36

What is an IP Address?

एक IP (Internet Protocol) address एक Computer network से devices connected को assign गया एक Numerical label है जो Communicationके लिए IP address का use करता है।

IP address किसी विशेष Network पर Specific machine के लिए एक Identifier के रूप में work करता है। यह आपको Destination और Source के बीच एक Virtual connection विकसित करने में भी help करता है। IP address को IP number or internet address भी कहा जाता है। यह आपको Addressing और Packets scheme के Technical format को specify करने में मदद करता है। अधिकांश Network TCP को  IP के साथ जोड़ते हैं।

एक आईपी एड्रेस IP address में चार नंबर होते हैं, प्रत्येक नंबर में एक से तीन Digit होते हैं, एक Signal dot (.) के साथ प्रत्येक नंबर या अंकों के सेट को अलग करता है।

IP Address is divided into two parts

  • Prefix:  IP address का Prefix भाग उस Physical Network की पहचान करता है जिससे Computer जुड़ा हुआ है। Prefix को Network address के रूप में भी जाना जाता है।
  • Suffix: Suffix भाग Network पर अलग-अलग Computer की पहचान करता है। Suffix को Host address भी कहा जाता है

Classful Addressing

Classful addressing 1981 से Classless Inter-Domain Routing को 1993 में introduced किए जाने तक Internet के Architecture को addressed करने वाला एक Network है।

यह Addressing method चार Address bits के आधार पर IP Address को पांच अलग-अलग classes में Divide करती है।

यहां, Class A, B, C तीन अलग-अलग Network size के Network के लिए Address provide करता है। Class D का use केवल Multicast के लिए किया जाता है और Class E को विशेष रूप से experimental purposes के लिए reserved किया जाता है।

Class A Network

Class A के Relation रखने वाले सभी IP address को उस Network को assign किया जाता है जो ज्यादा संख्या में Host को रखते हैं

  • Network ID8 bit long होता है।
  • Host ID24 bit long होता है।

Class A के पहले octet में higher order bit को हमेशा 0 set किया जाता है। octet में बचे  7 bit को Network ID तय करने के लिए रखा जाता है।

24 bit के Host ID का use किसी भी Network में Host को तय करने के लिए किया जाता है। Class A के लिए Default sub net mask 255.x.x.x. होता है। इसीलिए Class A के पास कुल होते हैं:

  • 2^7= 128 नेटवर्क ID
  • 2^24 – 2 = 16,777,214 होस्ट ID

Class B Network

Class B से Related IP Address उन Network को Assign किया जाता है जो medium size से लेकर Long size के Network तक होते हैं।

  • Network ID 16 bit long है।
  • Host ID 16 bit long है।

Class B के IP Address के पहले octet के High order bits हमेशा 10 पर set होते हैं। शेष 14 bits का use network ID define करने के लिए किया जाता है। किसी भी Network में Host को define करने के लिए Host ID के 16 bits का use किया जाता है। Class B के लिए Default sub net mask 255.255.xx Class B में कुल है:

  • 2^14 = 16384 Network address
  • 2^16 – 2 = 65534 Network address

Class C Network

Class C एक प्रकार का IP address है जो छोटे Network के लिए use किया जाता है। इस Class में Network को Indent करने के लिए तीन octet का use किया जाता है। यह IP 192 से 223 के बीच है।

इस प्रकार के Network addressing method में, पहले दो bits को 1 पर set किया जाता है और तीसरे bit को 0 पर set किया जाता है जो address के पहले 24 bits को और शेष bit को Host Address के रूप में बनाता है। ज्यादातर Local Area Network ने Network से जुड़ने के लिए Class C IP address का use किया।

Class C IP address के लिए Example:

192.168.178.1

Class D Network

Class D से Relation रखने वाले IP address का use multitasking के लिए किया जाता है। Class D से Relation रखने वाले IP address के पहले octet काHigher order bit हमेशा 1110 set होता है। बचे हुए bits से Host को पहचाना जाता है।

Class D के पास कोई Sub net mask नहीं होता इस से जुड़े IP address का Range 224.0.0.0 – 239.255.255.255. होता है।

Class E Network

Class E IP Address को शुरुआती चार Network Address Bit को 1 के रूप में शामिल करके define किया गया है, जो आपको दो को 240.0.0.0 से 255.255.255.255 तक पते शामिल करने की Allow देता है। हालांकि, E Class reserved है और इसका use कभी define नहीं किया गया है। इसलिए, कई Network कार्यान्वयन इन Address को undefined  के रूप में त्याग देते हैं।

Class E IP Address के लिए Example:

243.164.89.28

Net ID & Host ID

Classful से related कर रहे, Address दो part में divide किया गया था Net ID और Host ID । जहां Net ID Network के Address को define करेगा और Host ID से related network में Host address को define करेगा। और Net ID भाग और ost ID भाग Classes के साथ अलग-अलग होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here