DHCP Server & Workgroup/Domain Networking

0
24

DHCP का पूरा नाम Dynamic Host Configuration Protocol है यह एक Network management protocol है जिसका use एक Network पर hosts को Automatically IP Address assign करने के लिए किया जाता है यह host को IP Address इसलिए assign करता है ताकि ये एक दूसरे से Communicate कर सकें| DHCP को Local networks के साथ-साथ बड़े Networks पर भी Implement किया जा सकता है| DHCP एक Default protocol है जिसका use ज्यादातर सभी Routers और दूसरे Networking device पर किया जाता है| DHCP को RFC (Request for Comments) 2131 भी कहते हैं|

“किसी भी Network में यदि कोई host किसी दूसरे host से Communicate करना चाहता है तो इसके लिए उसके पास एक Unique IP address होना चाहिए। ये IP addresses आप manually भी हर host पर Configure कर सकते है। लेकिन यदि Network काफी बड़ा है तो ये Approach work नहीं करेगी। बड़े Network में आप हर host के पास manually जाकर IP addresses को assign नहीं कर सकते है। इस problem को solve करने के लिए DHCP का इस्तेमाल किया जाता है। Dynamic Host Configuration Protocol का काम hosts को IP address assign करना होता है। ये IP address, आटोमेटिक assign किये जाते है| DHCP एक Client/server protocol होता है। इसका Port number 67 होता है। Hosts को IP address provide करना DHCP का प्रमुख काम होता है। लेकिन यह IP address के अलावा बहुत सी Information hosts को provide करता है।

  • IP address (Ex – 193.123.2.1)
  • Subnet Mask (Ex – 244.244.0.0)
  • Domain Name (Ex – www.websitename.com)
  • Default Gateway (Ex. 10.0.0.0.1)
  • DNS Server Address

How to Work DHCP

  • DHCP Discovery: DHCP clients DHCP server की Discover के लिए Message को Broadcast करता है। Client computer 255.255.255.255 के Default broadcast destination के साथ एक Packet send करता  है या Specific subnet broadcast address यदि कोई Configure किया गया है। 255.255.255.255 एक Special broadcast address , जिसका अर्थ है ” यह Network”: यह आपको उस Network पर एक Broadcast packet send करने की Facility देता है जिससे आप जुड़े हुए हैं।
  • DHCP Request: Client multiple DHCP offer rececive कर सकता है क्योंकि Network में कई DHCP server होते हैं | यदि एक Server का Server IP address fail हो जाता है तो अन्य Server Backup provide कर सकते हैं। लेकिन, Customer केवल एक DHCP offer accept करेगा। offer के जवाब में, Customer DHCP server में से एक से Offer address का Request करते हुए एक DHCP request send करेगा है। शेष DHCP server से अन्य सभी offer IP address वापस ले लिए जाते हैं और IP available address के pul में वापस आ जाते हैं।
  • DHCP Acknowledgment: Server तब Customer को Acknowledgment send करता है जो Customer को DHCP lease की पुष्टि करता है। sever कोई अन्य configuration send कर सकता है जो Client ने पूछा हो। IP configuration पूरा हो गया है और Client नई IP setting का use कर सकता है।

What is Workgroup

Workgroup peer-to-peer network का ही एक रूप होता है जिसका यह नाम Windows based peer-to-peer computer network के लिए रखा गया था. इस प्रकार के Network के जरिये Computer आपस में एक दूसरे के साथ files, Printer या Internet connection तक पहुंच सकते है. इस प्रकार से काम करने के लिए प्रत्येक user के पास workgroup’s computers पर एक Account होना आवश्यक है, जिसके द्वारा Access possible होता है. जिनकी setting और उनके Access को Computer के user द्वारा Control किया जाता है

Network Domain

Describe करने वाली पहली वस्तुओं में से एक यह है कि क्या Automated किया जा रहा है और यह कहाँ रहता है। Network domain को Describe करने के लिए use की जाने वाली व्यापक categories में include हैं:

Local-area-network (LAN)

जिसे “Campus” के रूप में भी जाना जाता है – ये आम तौर पर Routed और Switched infrastructure से बने होते हैं, जहां PC, Server, Printer, wireless controller, और अधिक जैसे Device access के लिए physical Ethernet ports से जुड़े होते हैं।

Wide-area-network (WAN)

आम तौर पर Router, Switches और अन्य Transport service से बना होता है जो Enterprise द्वारा आवश्यक सभी स्थानों पर Network service provide करते हैं। Transport service, जैसे Circuits, MPLS, SONET, Carrier Ethernet, और अन्य, आमतौर पर एक Telecom carrier द्वारा provide की जाती हैं। Network device का management , जैसे  Branch routers, Backbone routers, और बहुत कुछ वाहक द्वारा प्रबंधित किया जा सकता है – जिसे “Managed service” कहा जाता है या सीधे Enterprise द्वारा Management किया जा सकता है।

Wireless Network, also known as “Wifi”

Wireless LAN controller से बना होता है जो Access point को Control करते हैं जो Wi-Fi network provide करते हैं जो PC, Tablet, Phone और अन्य Device network से connect करने के लिए use करते हैं।

Cloud

इसका use Amazon AWS, Microsoft Azure, Google Cloud, और अन्य जैसी Company द्वारा provide किए गए Public resource (compute, storage, and networking) का Describe करने के लिए किया जा सकता है। यह “Public cloud” का भी उल्लेख कर सकता है जो एक Enterprise द्वारा बनाया और बनाए रखा जाता है, लेकिन बड़े  Public cloud provider के लिए समान Technologies का लाभ उठाता है।

Security

Unique है, क्योंकि यह एक Typical domain नहीं है क्योंकि आम तौर पर सभी Domain में Component होते हैं, फिर भी अक्सर Organization के पास अलग Security operation (SecOps) team होती हैं जो Firewall, Intrusion का पता लगाने, Proxy और बहुत कुछ manage करने के लिए O&A के लिए अपने स्वयं के Specific tool का use करती हैं। .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here