Ethernet Specification and Standardization

0
24

What is Ethernet

Ethernet एक Technology होता है जो की Wired Local Area Network में use होता है| LAN एक Computer network होता है जो की Small area जैसे की Home, Office, School, College को cover करता है मतलब की LAN, Small area में Computer network establish करने का Work करता है| यह एक Network protocol होता है जो LAN (Local Area Network) के द्वारा Transmit होने वाले data को control करता है की data कैसे transmit करना है वो यह बताता है|IEEE (Institute of Electrical and Electronics Engineers) ने Ethernet को एक Protocol 802.3 के जैसा define किया लेकिन अगर General term में बात करें तो यह एक प्रकार का LAN network होता है|

यह Wired LAN network होता है जिसे आप अपने Office में, School में, College में, building में use करते हैं इसके अलावा और भी बहुत जगह हैं जहाँ पर बहुत computers एक दुसरे से LAN cable के द्वारा connected होते हैं जो की Ethernet cable होता है| अभी अधिकांश Computer और Desktop में पहले से ही Ethernet card available होता है जिससे आप आसानी से Ethernet cable के द्वारा दो या दो से अधिक Computer को connect करके Data transfer कर सकते हैं|

How Ethernet Works

Wired Connection पर Computer, Router और Printer जैसे Devices को connect करने का Standard method Ethernet  है। Ethernet में, Device wait करते हैं और Network में Communication करने के लिए Free time slot की Search करते हैं। जब Medium पर Data transmit करने वाला कोई device नहीं होता, तो wait करने वाला device Data transmit करने का अवसर लेता है। Ethernet Medium पर एक signal प्रत्येक attach node तक पहुंचता है इसलिए Destination address frame के Desired recipient की पहचान करने के लिए Important है

जब किसी Station पर Frame receive होता है तो पहले यह इसके Destination address को check करता है कि यह Frame स्वयं के लिए है या नहीं। यदि ऐसा नहीं है, तो Station इसके Content को check किए बिना ही Frame को Sacrifice कर देता है।Ethernet Addressing के बारे में एक Interesting बात इसका Broadcast address का Implementation है।

फ्रेम के डेस्टिनेशन एड्रेस उसके ब्रॉडकास्ट एड्रेस के बराबर होते हैं और वे नेटवर्क पर प्रत्येक नोड के लिए होते है, और प्रत्येक नोड इस प्रकार के फ्रेम को प्राप्त और प्रोसेस करता हैं। CSMA/CD सबसे व्यापक रूप से use Ethernet protocol है। इस Protocol का discarded, lost, या corrupted packet को handle करना है।

Ethernet में, Network device network पर Message(Frame) को Transmit करने के लिए free path का wait  करते हैं। यदि दो device एक ही समय में Message को Transmit करते हैं तो collision होता है और Message(Frame) discarded किया जाता है। CSMA/CD Protocol का use इस तरह के collision से Data lost को रोकने के लिए किया जाता है।

Advantages of Ethernet

  1. इसकी Speed बहुत ही Fast होती है सामान्य रूप से इसकी Speed 10 Gbps होती है|
  2. इसका cost भी बहुत कम होता है अर्थात् यह सस्ता मिल जाता है|
  3. इसे किसी Switch और Hub की आवश्यकता नहीं होती|
  4. यह बहुत reliable होती  है|
  5. Ethernet network को Maintain करना और Troubleshoot करना आसान होता है|
  6. यह Client-server architecture को follow नहीं करता है इसलिए इसमें सभी devices के समान privileges  होते हैं|
  7. Ethernet में use की जाने वाली cable में noise नहीं आती इसलिए इसमें Transfer किये जाने वाले data की quality बहुत ही अच्छी होती है|
  8. इसमें High level की security होती है इसलिए इसमें Hackers आसानी से आपकी Information को hack नहीं कर सकते है |

Disadvantages of Ethernet

  1. Ethernet का use केवल छोटी दूरी के लिए ही किया जा सकता है|
  2. यह एक nondeterministic service provide करता है|
  3. इसमें Packets की priority को set नहीं किया जा सकता है |
  4. यह उन Applications के लिए Suitable नहीं होता जिनका Traffic बहुत ज्यादा होता है क्योंकि जैसे ही Ethernet में Traffic बढ़ता है इसकी Efficiency कम होती जाती है|
  5. इसमें Packet को Receive करने के बाद Receiver acknowledge message को send नहीं कर सकताहै |
  6. यह Network पर connection-less communication provide करता है|
  7. इसकी Mobility बहुत ही limited होती है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here