MPEG-Objective & Bit stream syntax performance

0
81

MPEG Objective

MPEG का पूरा नाम Moving Picture Experts Group होता है| MPEG Authorities का एक Working group है जो Audio और Video compression और Transmission के Standard को define करने के लिए establish किया गया है| MPEG को Audio Video file format विकसित करने के रूप मे जाना जाता है| यह Group International Organization for Standardization (ISO) and International Electrotechnical Commission (IEC) द्वारा constituted किया गया है| MPEG ने MPEG -1, MPEG -2, MPEG -3, MPEG -4, MPEG -7, MPEG -21 इत्यादि के विभिन्न Version को जारी किया है|

MPEG audio compact disk cd पर Digital audio tap DAT और Audio file पर video store करने के लिए design किया गया है| MPEG file मे File extension के रूप मे .pepeg है| MPEG file को store और Playback के लिए Hardware decoder की आवश्यकता होती थी लेकिन आज इसे केवल Software codecs की आवश्यकता होती है|

File Extensions – .MP3, .MP4, .M4V, .MPG, .MPE, .MPEG

MPEG Architecture

MPEG एक General architecture है| जहां MPEG -M device पर चलने वाले MPEG -M applications middleware में Technology engines (TEs) को applications -Middleware API के माध्यम से स्थानीय Functionality module तक पहुंचने के लिए कहते हैं। अन्य Device पर चल रहे application के साथ Communicate करने के लिए Protocol engines को उनके बीच Primary or aggregated service protocol execute करके Call करते है |

  • Applications: Applications का प्रकार appliance पर depend करता है ।

Middleware layer

इस Layer में M3W और अन्य Middleware होते हैं। M3W को दो भागों में विभाजित किया जा सकता है

Functional part

यह Multimedia platform के साथ Applications और अन्य Middleware provide करता है।

Extra-functional part

यह Realization entities के lifetime और उनके साथ communication को manage करने को एक Service provide करता है।

Computing platform

platform appliance पर depend करेगा। Computing platform का API M3W के limit से बाहर है। अलग-अलग platform के लिए M3W के अलग-अलग Realization इन platform के लिए अलग-अलग API का use करेंगे।

Bit stream syntax performance

Computer data के लाखों छोटे टुकड़े, जिन्हें bits के रूप में जाना जाता है हर दिन Computer network के system पर travel करते हैं। यह System modern post office की तरह work करती है, जिसे लगातार world भर से Letter send और receive करना होता है। उन letters की तरह Computer bit एक continuous, ordered stream में आते हैं जिसे Bit stream के रूप में जाना जाता है।

Computer को send और receive की गई सभी Information 1 और 0 की series में change हो जाती है जो Data को represent करती है। जब Computer एक Message send करता है, तो Bit एक Wire के माध्यम से अपने Destination तक एक Specific order में Travel करते हैं। Bit stream information के साथ शुरू होती है|

Bit stream का example Byte stream है। Computer code में bit एक single 1 या 0 होता है, जिसे Binary digit के रूप में भी जाना जाता है। Eight bit एक Byte बनाते हैं और Byte stream इन Eight bit पैकेट को Computer से Computer तक पहुंचाती है।

MPEG 2 and MPEG 4

What is MPEG 2

1995 में, MPEG 2 को DVD media पर Video की Encoding के लिए Develop किया गया था। यह अपने Algorithm में Video coding के compression के लिए block-based eight by eight DCT का use करता है। इसीलिए MPEG 2 DVD Video Encoding के लिए आदर्श है। MPEG 2 का advantage यह है कि यह Video file की high quality को बनाए रखता है। MPEG 2 का disadvantage file size को छोटा करने में inability है। ऐसा इसलिए है क्योंकि MPEG 2 file पर DVD पर store करने के लिए use की जाती हैं|

MPEG 2 video file अधिक विशाल होती हैं। ये DVD और TV broadcast के लिए ideal हैं। यही कारण है कि Dish Network आदि जैसे over-the-air Television के लिए यह एक Like format है। MPEG 2 quality के case में MPEG 4 से बेहतर है। इसकी Bitrate 5 से 8 Mbit/sec की range में है और MPEG4 file की तुलना में Broader bandwidth की भी आवश्यकता होती है। MPEG2 की bandwidth पर 40 MB/second तक होती है। यह H.262 के encoding का use करता है।

MPEG2 का use करके encoded की गई Video file का Extensions हैं: .mpeg, .m2v, .mp2, mp3, .mpg।

What is MPEG4

MPEG 4 को 1999 में जारी किया गया था और इसे Limited resources वाले devices के लिए Encoding method के रूप में develop किया गया था| मुख्य रूप से Portable device जैसे कि Media Player और Mobile phone। Online videos और Audio files के लिए होता है| मुख्य रूप से Streaming media, साथ ही CD distribution, telephone, videophone और Broadcast television applications के लिए भी।

MPEG4 MPEG-1 और MPEG-2 Standard पर आधारित है और उनकी तरह एक Graphics और video lossy compression algorithm standard है। MPEG4 file size में छोटी हैं और इसलिए Online streaming के लिए या Limited disk space वाले portable players पर Storage के लिए Like की जाती हैं। MPEG-4 Wavelet technology पर आधारित है जो 20: 1 से 300: 1 तक की Image और 20: 1 से 50: 1 पर Scale images पर color images को compressed कर सकता है। MPEG4 compression system MPEG2 की तुलना में थोड़ा अधिक जटिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here