MS Word : Character Paragraph Formatting Automatic Formatting and style & Inserting and Removing Page Beaks, Header and Footer

0
60

Character and Paragraph Formatting

Character Formatting

Simple type किये गए Paragraph को Select कर उसके Size, Color, Fonts आदि में Changed को Character Formatting कहते है इस Character Formatting के लिए निम्न option का use किया जाता है|

Font typeface (such as Arial, Times New Roman)

Size

Style

Color

Paragraph Formatting

इस Formatting के अंतर्गत हम Paragraph को Select कर उसके Alignment Example (Left, Center, Right और Justify), Line के बीच की Spacing, Tabs, Indents, Paragraph में Bullets तथा Number और Paragraph पर Border तथा Shading आदि Set करने का कार्य करते है|

Formatting

Formatting Toolbar Menubar के नीचे होते है इस Bar में वो Button होते हैं जिनके द्वारा आप Select किये गए Paragraph का Font, Font size, Font color, Font style इत्यादि को कर सकते हैं।

Automatic Formatting and Style

MS Word Document में इस Option से Formatting के लिए Style Created कर सकते है | एवं उसकी Shortcut key को Defined कर सकते है| इसमें Paragraph character level की Setting की जाती है | एवं Font, Tab, Paragraph Border आदि को set किया जा सकता है |

Inserting and Removing Page Breaks

Insert page

इस MS Word में इस option के Select से निम्नलिखित work कर सकते है |

  • Cover Page:- इस Option के द्वारा हम अपनी Word file में पहले से Design किए हुए Cover page insert कर सकते है, जिससे हमारी File की Design attractive हो जाती है।
  • Blank Page:-इस Option के द्वारा आप cursor की वर्तमान स्थिति के बाद new blank page insert कर सकते है।
  • Page Break :- इस Option से आप Word file में cursor की वर्तमान स्थिति से Page को Break कर new page insert कर सकते है।

Removing Page Breaks

  • Home tab पर Paragraph group में Page break करने के लिए सभी formatting marks display के लिए Show/Hide पर click करें।
  • Page break को select करने  के लिए उस पर Double click कर फिर Delete करे।
  • Document में remaining formatting marks को hide करने के लिए फिर से Show/Hide पर click करें।

Header and Footer

Header और Footer में उस Matter को Set किया जाता है | जिसको हमे Document के प्रत्येक Page पर show करना होता है | इसमें जो Matter या Text जोड़ा जाता है | वह Document के प्रत्येक Page के ऊपरी part में Header और page के निचले part में Footer show होता है | इसको Setting page setup के layout option से की जाती है | इस Option से Document में Header एवं Footer को लगा सकते है | इसके साथ Header एवं Footer toolbar show होने लगती है | यह document के हर Page पर show होता है |

Header

Page के सबसे ऊपरी हिस्से को Header कहा जाता हैं| Header page को Top margin में जोडा जाता है। इसमें Page number, number of pages, date time, auto text आदि को जोडा जाता है। इसकी toolbar की help से इसको manage किया जाता है।

Footer

Page के सबसे नीचे वाले हिस्से को Footer कहते हैं यह Page के निचले हिस्से में होता है। अर्थात् यह Page के Bottom margin में लगाया जाता है। इसका use footnote, page number, number of pages डालने के लिए किया जाता हैं|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here