Synchronization & Orchestration and QOS Architecture

0
194

Multimedia Synchronization

Multimedia synchronization तीन Axes के साथ Multimedia information के Coordination को Refers करता है Content, Space, and Time.

Informally रूप से, Synchronization को Long time से “Right Time पर Right Place पर होना” कहा जाता है। Multimedia synchronization बनाती है| जिसे तीन Orthogonal Axes के साथ Multimedia information के Coordination के रूप में Describe किया जा सकता है| Content, Space, and Time – अर्थात, “सही सामान, सही जगह और सही समय ।”

Multimedia Technologies in Broadcasting

Broadcasting के लिए नई Multimedia technologies का Application TV viewers को New Content और Service provide करता है। TV program को Multimedia analysis द्वारा processed किया जाता है और Various applications के लिए use किया जाता है।

Advances in Broadcasting and Sophisticated Uses of TV Programs

Worldwide में Broadcasting analog से Digital में Change हो रहा है। Electronic program guide (EPG) और Data broadcasting सहित Multimedia Service शुरू की जा रही हैं। New Broadcasting Service develop की जा रही हैं। Example के लिए, TV-Anytime service viewers को एक बड़ी Storage capability वाले TV receiver पर scene or scene highlights द्वारा TV program देखने में able बनाती है | कई Potential users हैं जैसे कि HDD/DVD recorders के owner और Internet service के users, जो various way से Video को retrieve करना और देखना चाहते हैं। ऐसी Service के लिए, Segment metadata shots या scene की Content का describing करता है|

What is Orchestration

Orchestration एक Large-scale पर Virtual Environment या Network के Managing के समान है। Complex distributed system और Service के बीच Automated task के Scheduling और Integration को Organize करता है | On-premise या Cloud में- Interconnected workload, Repeatable processes और Operation को Arrangement करता है और Simple बनाता है । Orchestration tool का use करके, आप अपने Computing environment के भीतर Complex computer system, Middleware और Service की व्यवस्था, Coordination और Management को Automated कर सकते हैं और Larger Workflow का Support करने के लिए Automated processes को Direct कर सकते हैं।

Modern IT teams के साथ अब hundred से thousands applications और Server के management के लिए Responsible होने के कारण, Manual administration आज की जरूरतों को पूरा नहीं कर सकता है। अत्यधिक Available, Dynamically scaling, Performant applications और Cloud system देने के लिए Orchestration आवश्यक है|

Quality of Service

Traffic control mechanism को Refers करता है जो Application या Network operator आवश्यकताओं के आधार पर Performance में differentiate करना चाहता है या Application, Sessions या Traffic aggregates के लिए predictable या Guaranteed performance provide करता है। QOS के लिए मूल घटना का मतलब packet delay और Various kind के losses के Reference में है।

Need for QoS

  • Video और Audio conferencing के लिए bounded delay और Loss rate की आवश्यकता होती है।
  • Video और Audio streaming के लिए Bounded packet loss rate की आवश्यकता होती है| यह Delay के प्रति इतना Sensitive नहीं हो सकता है।
  • Time-critical application (real-time control) जिसमें Bounded delay को एक Important factor माना जाता है।
  • Valuable application को Less valuable application की तुलना में बेहतर Service provide की जानी चाहिए।

QoS Specification

QoS आवश्यकताओं को इस प्रकार Specified किया जा सकता है|

  • Delay
  • Delay Variation(Jitter)
  • Throughput
  • Error Rate

There are two types of QoS Solution

Stateless Solutions

Router traffic के बारे में कोई Grained state नहीं रखते हैं इसका एक Positive factor यह है कि यह Scalable और Robust है। लेकिन इसकी Weak services भी हैं क्योंकि किसी Particular application में जिस तरह की Delay या Performance का सामना करना पड़ता है| उसके बारे में कोई Guarantee नहीं है।

Stateful Solutions

Routers per-flow state बनाए रखते हैं क्योंकि Quality-of-Service provide करने में flow बहुत Important है| Guaranteed services और High resource utilization जैसी Powerful service provide करना, तथा Protection provide करता है, ये बहुत कम scalable और Robust होते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here