What are Data Models and its classification?

0
41

Data Model :-

Data Model यह define करता है की data को database में किस प्रकार organize किया गया है|  हर database model कुछ नियम(rules) तथा standard को follow करता है|

एक data model concept का एक connection होता है जिस का use कैसी database के structure को describe  करने के लिए किया जाता है|

ज्यादातर data model मैं database के retrieve एवं update किए जाने के लिए basic operation का एक set भी होता है|

Classification of Data Model :-

Data base model को तीन भागों में classify किया जा सकता है –

1 – Object Based Data Model:-

Relational database  में एक database को कई सारे server पर distribute नहीं किया जा सकता जिसके कारण object base logical model  का use  किया जाता है| यह data conceptual level और view level पर classify करता है|

इस model  के अंतर्गत ER model object,  oriented model, binary model भी आते हैं|

2 – Physical Data Model:-

Physical data model ऐसे concept available कराते हैं जो यह describe  करते हैं कि data computer में किस प्रकार store है।

Physical data model information को represent कर कि यह classify करते हैं कि computer में डाटा को files के रूप में कैसे store किया जाता है|  Access path,  एक structure होता है जो किसी database के record की searching को easy बनाता है|

3 – Record based Logical Model:-

Record based logical model की details को hide करते हैं परंतु इन्हें किसी computer system पर सीधे implement किया जा सकता है|

Advantages Of Data Models:-

  • एक designing data model का main aim यह सुनिश्चित करना है कि functional team द्वारा पेश किए गए data object  को strict रूप से प्रस्तुत किया जाता है।
  • Physical database के निर्माण के लिए उपयोग किए जाने के लिए data model पर्याप्त  होना चाहिए।
  • Data model  में information  का use  table, primary और विदेशी foreign key और stored procedures के बीच relation को define करने के लिए किया जा सकता है।
  • Data model, business को organizations के भीतर और उनके बीच communicate करने में मदद करता है।
  • Data Model, ETL(extract, transfer, load) process में data mapping को document  करने में मदद करता है|
  • Data Model को recognize करने के लिए data के सही source को पहचानने में मदद करता है|

 Disadvantages Of Data Models :-

  • Data Model विकसित(develop) करने के लिए किसी को physical data को store करने के लिए characteristics को जानना चाहिए।
  • यह एक navigational system है जो complex application development, management का production करती है। इस प्रकार, इसके लिए biological truth के knowledge की requirement होती है।
  • Modification में किए गए छोटे बदलाव के लिए भी पूरे application में modification की आवश्यकता होती है।
  • DBMS में कोई सेट डेटा manipulation language नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here